PO का पूरा नाम – PO Full Form in Hindi

नमस्कार दोस्तों, आज मैं आपको PO Full Form in Hindi, PO का Full Form क्या है, पी.ओ क्या है, PO का पूरा नाम और हिंदी मे क्या अर्थ होता है, यह सारी information मैं आपको अपने इस post मे दूँगा ।

यदि आपको इसके बारे मे जानकारी चाहिए तो आपको हमारी यह post PO full form in hindi को अंत तक जरूर पढ़ें ।

PO Full Form in Hindi – पी.ओ क्या होता है

PO की full form “Probationary Officer” हैं । इसका हिंदी मे पूरा नाम है “प्रमाणीकरण अधिकारी” । यह एक प्रवेश स्तर पोस्ट है भारतीय बैंको मे नई भर्ती के लिए । जिसे हम Probationary Officer के रूप मे जानते हैं । 

यह पद सार्वजनिक क्षेत्र (public sector) के बैंकों और निजी (private) बैंकों द्वारा भी पेश किया जाता है।

Probationary Officer सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बैंकों में सहायक प्रबंधक (Assistant Manager) का पद संभाल सकता है। SBI अलग-अलग SBI PO परीक्षा आयोजित करता है, जो दो मुख्य PO परीक्षाओं में से एक है यानी IBPS PO और SBI PO

लाखों छात्र अपना अच्छा भविष्य बनाने के लिए IBPS PO या SBI PO के माध्यम से इस प्रतिष्ठित स्थिति में शामिल होने के लिए Bank PO परीक्षा के लिए Competition करते हैं

बैंक मे PO बनने की योग्यता 

आपके योग्यता से तात्पर्य यह है कि आपकी qualification क्या है । यदि आप Bank PO के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको graduation करना अनिवार्य है और graduation आपकी किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से हो । यदि आपने  medical से या engineering से भी graduation किया हो तो भी आप इसका exam दे सकते हो । Graduation मे आपके 55% marks होना जरूरी है ।

 आयु सीमा 

जिस तरह किसी Job के लिए कम से कम 18 साल का होना जरूरी है उसी तरह ही Bank में PO के पद के लिए भी एक age तय की गई हैं ।

यदि आप general है और Bank मे Po के पद के लिए Apply करना चाहते तो इसके लिए आपकी उम्र 21 से 30 वर्ष होनी चाहिये और यदि आप OBC है तो आपको 3 साल की छुट है और यदि आप SC, ST से आते हैं तो 5 साल की छुट है ।

Bank PO full form

बैंक मे PO की भर्ती प्रक्रिया 

Bank मे PO की भर्ती प्रक्रिया 3 चरणों मे होती हैं :

  1. प्री एग्जाम
  2.  मेन्स एग्जाम
  3. इंटरव्यू

Pre-exam 

Pre-exam मे तीन अलग – अलग section से 100 question होते हैं । जिसमे Quantitative Aptitude (35 Questions), Reasoning Ability (35 Questions), English Language (30 Questions) हैं । यह एक तरह का qualifies exam होता हैं

Mains exam

इसमे आपसे 200 questions पूछे जाते हैं जिसमे Quantitative Aptitude, Reasoning Ability, English Language, General Awareness and Basic Computer Knowledge शामिल होता हैं ।

Interview

जो भी छात्र इस mains exam को पास कर लेते हैं उन्हें interview के लिए बुलाया जाता है । यह interview अलग-अलग बैंकों द्वारा IBPS की मदद से organize किया जाता हैं । PO का selection आपके mains exam के marks और interview के marks पर ही तय होता हैं ।

PO की सैलरी

यदि Bank PO की salary की बात की जाए तो इनकी salary 23,700 होती है । इसके अलावा इन्हें जो भत्ते मिलते हैं जैसे DA, परिवहन भत्ता, HRA, CCA आदि इन सभी को मिलाकर एक Probationary Officer को  38,703 सैलरी मिलती हैं ।

PO के कार्य

PO की भूमिका bank मे सबसे सर्वश्रेष्ठ होती है जिस वजह से इसका कार्य भी बहुत प्रभावशाली होता हैं । हम आपको PO के कुछ कार्य के बारे मे बताने जा रहें हैं ।

ऋण प्रदान करना – इनके सभी कार्यों मे सबसे महत्वपूर्ण कार्य यह हैं कि अपने उपभोक्ताओं को ऋण प्रदान करता है ।

अन्य जानकारी रखना – PO को Loan, Marketing, Accounting, Finance आदि से सम्बंधित जानकारी भी रखनी जरूरी होती है ।

ग्राहकों को सेवाए उपलब्ध करना – PO को अपने ग्राहको का विशेष ध्यान रखना होता है ताकि उन्हें किसी तरीके की असुविधा न हो, जैसे कि ATM Card, Check Book, PassBook, ग्राहको की समस्याओ, नकद लेनदेन के मामले, खाते को लेकर कोई समस्या आदि से सम्बंधित जानकारी देता है ।

You can also read

दोस्तों मैं अब अपनी यह post PO full form in Hindi को यहीं समाप्त करता हूँ और आशा करता हूँ कि आपको मेरा यह post पसंद आया होगा, यदि आपको मेरा यह post PO full form in Hindi पसंद आया तो आप इसे अपने दोस्तों, पड़ोसी ओर रिस्तेदारों के साथ अधिक से अधिक share करें ।

यदि मेरे इस post PO full form in Hindi के लिए आप कोई सुझाव देना चाहते हैं या आपका कोई सवाल है तो आप comment box मे जाकर comment करे ताकि मैं अपने इस post PO full form in Hindi को update कर सकूं और आपके सवालों का अच्छे से जवाब दे सकूँ ।

Leave a Comment